Dosti Friendship Shayari Doudhe Chale Ayege

dosti friendship shayari in hindi language

ऐ दोस्त जब भी तुझे रोटा हुडा देखते हैं,
जब भीतरी आँखों से आंसू बहते है,
और हमें समझ नहीं अत कैसे रोकें उस मोतियों को बिखरने से,
अपनी इस बेबसी पर हम रोते है।

जी चाहता है दौड़ कर तेरे पास चले आएं,
तेरे आंसुओं पौंछ दें,
और बाहों में भर कर तुझे अपनेपन का एहसास दिलाएं।

जी चाहता हैं जमाने भर की खुशियाँ तेरे क़दमों में डाल दें,
तेरी ज़िन्दगी से हर गम को चुराकर उसे खुशहाल बना दें,
जो मिटा न सकें तेरी ज़िन्दगी से गम को,
अपने हिस्से की खुशियाँ तुझपर वार दें।

कितने ख़ास हो तुम इसकी तो खबर नहीं है खुद तुझको,
तुझसे ज्यादा प्यारा इस जहाँ में कोई नहीं है मुझको,
हो सकता है कभी खुशियों में तेरा साथ ना दे पाएँ,
पर वादा है हमारा बुरे वक़्त में अकेला नहीं पाओगे तुम खुद को।

उम्र भर के लिए हर मोड़ पर तेरा साथ निभाएंगे,
जो कभी तू अपने गम हमसे छुपाएगी,
खामोशी मैं भी छुपी सुनकर तेरे पास दौड़े चले आएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *